Ghazals

Best of Kumar Vishwas

  Best of Kumar Vishwas 1 मेरा जो भी तर्जुबा है, तुम्हे बतला रहा हूँ मैं, कोई लब छु गया था तब, की अब तक गा रहा हूँ मैं, बिछुड़ [Read More…]

  • 2
    Shares